Amastha Awaleha Uses in Hindi | अमास्थ अवलेहा के फायदे-नुकसान, उपयोग और सावधानियाँ

Introduction / परिचय

अमास्थ अवलेहा चयनित जड़ी-बूटियों और दवाओं के मिश्रण का उपयोग करता है, जो अस्थमा, ब्रोंकाइटिस, त्वचा रोगों और अन्य प्रकार के एलर्जी विकारों जैसे पुराने रोगों के उपचार के लिए एक बहुत ही प्रभावी और शक्तिशाली उपाय के रूप में सामने आते हैं।

Amastha Awaleha Uses in Hindi
Amastha Awaleha Uses in Hindi

हर्बल दवाएं सदियों से अपने उपचारात्मक गुणों के लिए जानी जाती हैं। इन जड़ी बूटियों के महान हर्बल गुण रोग को जड़ से ठीक करने में मदद करते हैं।

इस लेख में, हम अमास्थ अवलेह के उपयोगों के बारे में चर्चा करेंगे। हम आपको खुराक और इस दवा को लेने का सबसे अच्छा समय के बारे में भी बताएंगे।                                                                                          

    Amastha Awaleha Uses in Hindi / अमास्थ अवलेहा के उपयोग

    • अमास्थ अवलेहा को ब्रोन्कियल कैटरर और क्रोनिक ब्रोंकाइटिस में एक एक्सपेक्टोरेंट के रूप में इस्तेमाल किया जा सकता है। यह सांस की तकलीफ, घरघराहट, सीने में दर्द और आवाज की कर्कशता से राहत दिलाने में प्रभावी है।
    • अमास्थ अवलेह अस्थमा के लिए एक प्रभावी उपाय है। यह अस्थमा से जुड़ी घरघराहट और सांस फूलने से राहत देता है।
    • अमास्थ अवलेहा का उपयोग कैंसर देखभाल उपचार के लिए भी किया जा सकता है क्योंकि इसमें कैंसर रोधी गुण होते हैं।
    • इसका उपयोग तीव्र और पुरानी साइनसिसिस के उपचार में किया जाता है।

    Composition / संयोजन

    • अधतोदा वासिका
    • सोलनम ज़ैंथोकारम
    • ग्लाइक्रिज़ा ग्लैब्रा
    • दशमूल
    • हल्दी
    • अमला
    • गिलोय
    • तुलसी

    Amastha Awaleha Benefits in Hindi / अमास्थ अवलेहा के लाभ या फायदे 

      • यह छाती और पेट को मजबूत करता है
      • यह गुर्दे की पथरी की समस्या में मदद करता है
      • यह अतिसार, पेचिश, अपच, अपच की समस्याओं के लिए एक प्रभावी औषधि है
      • इसका उपयोग बवासीर, फिस्टुला और त्वचा रोगों के उपचार में किया जाता है
      • इसका उपयोग पुरानी खांसी और सर्दी के उपचार में किया जाता है
      • इसका उपयोग पुराने घावों, फोड़े और अल्सर के उपचार में किया जाता है

      Amastha Awaleha Side effects in Hindi / अमास्थ अवलेहा के दुष्प्रभाव या नुकसान 

      यह आम तौर पर अच्छी तरह सहन किया जाता है और इसे भोजन के साथ लिया जा सकता है। हालांकि, यह कुछ मामलों में गैस्ट्रिक गड़बड़ी और गैस का कारण बन सकता है। यह गुर्दे की बीमारी वाले लोगों के लिए उपयुक्त नहीं है।

      How to Use / कैसे इस्तेमाल करे!

        Amastha Awaleha को खाने के बाद शहद के साथ ले सकते हैं। आप इस दवा को बराबर मात्रा में पानी के साथ ले सकते हैं। आप इस दवा को दिन में दो बार ले सकते हैं। आप कम खुराक से शुरू कर सकते हैं और इसे धीरे-धीरे बढ़ा सकते हैं।

        Dosage / मात्रा बनाने की विधि

        आयुर्वेदिक चिकित्सक के निर्देशानुसार अमास्थ अवलेहा की खुराक दिन में एक या दो बार 12 से 24 ग्राम है। इसे आमतौर पर शहद, घी, गर्म पानी या दूध के साथ दिया जाता है।

        How it works / यह काम किस प्रकार करता है?

        Adhatoda Vasica, Glychriza Glabra और Solanum Xanthocarum प्रकृति में रोगाणुरोधी, tracheobronchodilator और विरोधी भड़काऊ हैं। वे ब्रोन्कोडायलेटर के रूप में काम करते हैं जो ब्रोंची की चिकनी मांसपेशियों को आराम देते हैं, जो अस्थमा के कारण खांसी से राहत दिलाने में मदद करता है।

        1. Glycyrrhiza Glabra और दशमूल प्रकृति में मंदबुद्धि और कफ निस्सारक हैं। वे ब्रोन्कियल स्राव को तरल और साफ करने में मदद करते हैं।
        2. हल्दी और आंवला श्वसन तंत्र की सूजन को कम करने में मदद करता है जिससे कफ के साथ खांसी से राहत मिलती है।
        3. गिलोय (टिनोस्पोरा कॉर्डिफोलिया) एक प्रतिरक्षा बूस्टर और एक एंटीऑक्सीडेंट एजेंट है। यह संक्रमण से लड़ने में मदद करता है और साथ ही प्रतिक्रियाशील ऑक्सीजन प्रजातियों (आरओएस) को साफ करके ऑक्सीडेटिव तनाव को कम करता है।
        4. तुलसी (Ocimum sanctum) में एंटीऑक्सीडेंट गुण भी होते हैं जो ऑक्सीडेटिव तनाव को कम करने में मदद करते हैं जिससे खांसी हो सकती है।

        Precaution & Safety / सावधानी और सुरक्षा

            1. स्तनपान के दौरान इस दवा का उपयोग करना संभवतः असुरक्षित होता है।
            2. केवल चिकित्सकीय देखरेख में गर्भावस्था में उपयोग करना सुरक्षित है।
            3. माहवारी के दौरान अमास्थ अवलेह से बचना बेहतर है क्योंकि इसकी उष्ना (गर्म) शक्ति के कारण रक्तस्राव बढ़ सकता है।
            4. यदि आपने अभी-अभी उच्च वसा वाले खाद्य पदार्थ (जैसे मक्खन, घी और तेल) खाया है तो अमास्ता अवलेह न लें। यह दवा की प्रभावशीलता को कम कर सकता है।

            Price / कीमत

            इस दवा की कीमत कई कारकों पर निर्भर करती है और इस कारण से दवा की कीमत के रूप में एक भी आंकड़ा देना मुश्किल है। हालांकि, दवा की कीमत लगभग 80-300 रुपये (ऊपर) है।

            Conclusion & Review / निष्कर्ष और समीक्षा

            अमास्थ अवलेहा एक यूनानी औषधि है, जो प्राकृतिक जड़ी-बूटियों से तैयार की जाती है। यह आंवला, गिलोय, छावया, दालचीनी, पिप्पली और कई अन्य जड़ी-बूटियों के संयोजन से तैयार किया जाता है।

            यह प्रतिरक्षा प्रणाली को बढ़ाकर समग्र स्वास्थ्य में सुधार करने में मदद करता है। उत्पाद दो रूपों में उपलब्ध है - सिरप और टैबलेट के रूप में। दोनों रूप सभी आयु समूहों के लिए अच्छे हैं और इन्हें आसानी से पानी के साथ सेवन किया जा सकता है।

            अमास्थ अवलेहा में प्राकृतिक हर्बल सामग्री शामिल है जो इसे सभी प्रकार के दुष्प्रभावों से पूरी तरह मुक्त बनाती है।

            हम आशा करते हैं कि इस लेख को पढ़ने के बाद आप अमास्ता अवलेह के उपयोग और लाभों को समझ पाए होंगे। यदि आप भी इस दवा का उपयोग कर रहे हैं, तो हम आपसे अनुरोध करते हैं कि आप अपने अनुभव और परिणाम नीचे टिप्पणी अनुभाग में हमारे साथ साझा करें।

            साथ ही, इस लेख को अपने दोस्तों और परिवार के सदस्यों के साथ साझा करें ताकि वे भी इस प्राकृतिक और प्रभावी दवा से लाभान्वित हो सकें। आपको धन्यवाद!

            FAQ / सामान्य प्रश्न

            What is Amastha Awaleha / अमास्थ अवलेहा क्या है?

            अमास्थ अवलेहा एक आयुर्वेदिक यौगिक तैयारी (अवलेहा) है जिसे विशेष रूप से शरीर को मजबूत बनाने और सहनशक्ति में सुधार के लिए तैयार किया गया है। यह एक पौष्टिक टॉनिक है, जो शरीर की ताकत को बढ़ाने का काम करता है।

            What is the best time to use Amastha Awaleha / अमास्ता अवलेहा का उपयोग करने का सबसे अच्छा समय क्या है?

            अमास्ता अवलेह का सेवन करने का सबसे अच्छा समय सोने से पहले का है।

            What are the benefits of Amastha Awaleha / आमस्थ अवलेहा के क्या लाभ हैं?

            यह विटामिन बी3, विटामिन का बहुत अच्छा स्रोत है बी6 और आयरन, जो शरीर के सामान्य कामकाज के लिए आवश्यक हैं।

            इसमें लिक्विड ग्लूकोज भी होता है, जो थकान और थकान को और कम करता है। यह सहनशक्ति के स्तर को बढ़ाता है, प्रतिरक्षा को मजबूत करता है और तनाव से राहत देता है।

            How often can I consume Amastha Awaleha / मैं कितनी बार Amastha Awaleha का सेवन कर सकता हूं?

            अमास्ता अवलेह को आप हफ्ते में 2-3 बार ले सकते हैं।

            एक टिप्पणी भेजें

            Your comment is Valuable. Please do not enter any spam link in the comment box.

            और नया पुराने