Madhugrit Uses in Hindi | मधुग्रित के फायदे-नुकसान, उपयोग और सावधानियाँ

Introduction / परिचय

मधुग्रित टैबलेट के रूप में हर्बल और खनिज अवयवों के साथ एक आयुर्वेदिक दवा है। इसका उपयोग मधुमेह, मूत्र मार्ग से संबंधित रोगों और किडनी आदि के आयुर्वेदिक उपचार में किया जाता है।

मधुग्रित टैबलेट एक आयुर्वेदिक दवा है जिसका उपयोग मधुमेह के उपचार में किया जाता है। यह रक्त शर्करा के स्तर, कोलेस्ट्रॉल और ट्राइग्लिसराइड्स को बनाए रखने में मदद करता है। यह मधुमेह न्यूरोपैथी और नेफ्रोपैथी जटिलताओं में उपयोगी है।

इस पोस्ट में, आप मधुग्रित के उपयोग, रचना, खुराक, साइड इफेक्ट आदि के बारे में जानेंगे। हम भारत में मधुग्रित टैबलेट की कीमत और ऑनलाइन शॉपिंग साइट भी प्रदान करेंगे जहां आप घरेलू उपयोग के लिए मधुग्रित टैबलेट ऑर्डर कर सकते हैं।

Madhugrit Uses in Hindi / मधुग्रित के उपयोग

  • इसका उपयोग मूत्र पथ विकारों के उपचार में किया जाता है। यह पाचन में सुधार करता है, भूख बढ़ाता है, शरीर के ऊतकों को पोषण देता है और शरीर में जलन को कम करता है।
  • मधुग्रित मधुमेह की गोली है। इसका उपयोग शरीर में रक्त शर्करा के स्तर को नियंत्रित करने के लिए किया जाता है।
  • मोटापे, तनाव और चिंता से पीड़ित लोगों के लिए यह एक कारगर दवा है।
  • इस दवा में जड़ी-बूटियाँ शामिल हैं जो शरीर के चयापचय को बढ़ाकर शरीर के उचित कार्य को बनाए रखने में मदद करती हैं।

Composition / संयोजन

  • चंद्रप्रभा वटी 200mg,
  • शुद्ध शिलाजीत (एस्फाल्टम पंजाबियनम) Exd। 50 मिलीग्राम,
  • का अर्क:
  • गिलोय (टिनोस्पोरा कॉर्डिफोलिया) सेंट 100mg,
  • इंद्रायण (सिट्रुलस कोलोसिंथिस) आरटी। 10 मिलीग्राम,
  • करेला (मोमोर्डिका चरंता) पं. 50 मिलीग्राम,
  • चिरायता (स्वर्टिया चिरता) वाई। पाई। 50 मिलीग्राम,
  • शतावर (शतावरी रेसमोसस) आरटी। 25 मिलीग्राम,
  • अश्वगंधा (विथानिया सोम्निफेरा) आरटी। 25 मिलीग्राम,

सहायक पदार्थ:

गोंद बबूल अरेबिका) 8 मिलीग्राम,

टैल्कम (हाइड्रेटेड मैग्नीशियम सिलिकेट) 8 मिलीग्राम,

एमसीसी (माइक्रोक्रिस्टलाइन सेलुलोज) 16 मिलीग्राम,

Croscarmellose सोडियम (सोडियम Carboxymethyl Cellulose) 8 Mg

Madhugrit Benefits in Hindi / मधुग्रित के लाभ

  • इसका उपयोग पीलिया के उपचार में किया जाता है।
  • इसका उपयोग हेपेटाइटिस में किया जाता है
  • नमकीन विरेचन - गुदा (निचले आंत्र) के माध्यम से शरीर से सभी विषाक्त पदार्थों को बाहर निकालने के लिए शुद्धिकरण चिकित्सा
  • यह भूख और पाचन में सुधार करने में मदद करता है
  • एनोरेक्सिया और कुपोषण में उपयोगी।

Madhugrit Side effects in Hindi / मधुग्रित के साइड इफेक्ट

आयुर्वेदिक दवा के रूप में इस तरह के कोई गंभीर दुष्प्रभाव नहीं बताए गए हैं, लेकिन इस दवा के ओवरडोज से पेट खराब, मतली, उल्टी और पेट दर्द जैसे दुष्प्रभाव हो सकते हैं।

How to Use Madhugrit / मधुग्रित का उपयोग कैसे करें!

2 गोली दिन में 2 बार भोजन के बाद गुनगुने पानी के साथ या चिकित्सक के निर्देशानुसार लें।

Dosage / मात्रा बनाने की विधि

1 - 2 गोलियां एक दिन में, भोजन से पहले या बाद में या आयुर्वेदिक चिकित्सक के निर्देशानुसार।

How Madhugrit works / मधुग्रित कैसे काम करता है?

मधुग्रित टैबलेट तीन आयुर्वेदिक दवाओं से मिलकर बना है जिसमें एंटीहाइपरग्लाइसेमिक और एंटीऑक्सीडेंट गुण होते हैं। ये यौगिक इंसुलिन स्राव को बढ़ाकर और आंत से शर्करा के अवशोषण को कम करके रक्त शर्करा के स्तर को कम करते हैं।

वे कोशिकाओं द्वारा ग्लूकोज के उपयोग को भी बढ़ाते हैं। मधुकपर्णी (सेंटेला एशियाटिक) कोशिकाओं द्वारा ग्लूकोज के उपयोग को बढ़ाकर रक्त शर्करा के स्तर को कम करती है।

Precaution & Safety / सावधानी और सुरक्षा

  1. यह दवा केवल सख्त चिकित्सकीय देखरेख में ही ली जानी चाहिए। इस दवा के साथ स्व-दवा खतरनाक साबित हो सकती है।
  2. लीवर से जुड़ी बीमारी से पीड़ित मरीज सावधानी के साथ मधुग्रित का इस्तेमाल करें. मधुग्रित की खुराक को कम या ज्यादा करना पड़ सकता है. कृपया अपने चिकित्सक से परामर्श करें।
  3. गर्भवती महिलाओं को मधुग्रित का प्रयोग सावधानी से करना चाहिए। मधुग्रित लेने से पहले कृपया अपने चिकित्सक से परामर्श करें
  4. यदि आपको रक्तस्राव की समस्या है, रक्त के थक्के जमने की समस्या है, गुर्दे की बीमारी है, या आपके रक्त में कैल्शियम, पोटेशियम या मैग्नीशियम का निम्न स्तर है तो मधुग्रित का उपयोग नहीं किया जाना चाहिए। मधुग्रित लेने से पहले कृपया अपने चिकित्सक से परामर्श करें।
  5. इसे बच्चों और पालतू जानवरों की पहुंच से दूर रखें।

Price / कीमत

इस दवा की कीमत कई कारकों पर निर्भर करती है और इस कारण से दवा की कीमत के रूप में एक भी आंकड़ा देना मुश्किल है।

हालाँकि आपकी मांग, स्थान और फार्मेसी के अनुसार इसकी कीमत 230-300 रुपये तक हो सकती है।

Conclusion & Review / निष्कर्ष और समीक्षा

मधुग्रित मधुमेह के उपचार में निर्धारित एक गोली है, जिसे मधुमेहा भी कहा जाता है। यह एक प्राकृतिक जड़ी बूटी है जो मधुमेह के इलाज में मदद करती है और मधुमेह से जुड़ी जटिलताओं जैसे मधुमेह रेटिनोपैथी, गुर्दे की विफलता और तंत्रिका क्षति को रोकने में भी मदद करती है।

यह एक प्राकृतिक जड़ी बूटी है जो कुछ दिनों के उपयोग के बाद अपना असर दिखाती है। मधुमेह संबंधी रेटिनोपैथी और गुर्दे की विफलता जैसी मधुमेह की समस्याओं के इलाज में मधुग्रित बहुत उपयोगी है। मधुग्रित का कोई साइड इफेक्ट नहीं है क्योंकि यह हर्बल और प्राकृतिक है।

हमें उम्मीद है कि मधुग्रित टैबलेट पर यह लेख आपको इस दवा के बारे में और जानने में मदद करेगा। यदि आपका कोई प्रश्न है या आप अपना अनुभव मधुग्रित के साथ साझा करना चाहते हैं, तो हमें नीचे टिप्पणी अनुभाग में लिखें। पढ़ने के लिए धन्यवाद! :)

FAQ's / अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न

How long to use? / कब तक उपयोग करना है?

डॉक्टरों की सलाह के अनुसार, इस दवा को 1 महीने तक सुरक्षित रूप से इस्तेमाल किया जा सकता है।

How long do Madhugrit tablets last in the body? / मधुग्रित की गोलियां शरीर में कितने समय तक चलती हैं?

मधुग्रित की गोलियां पेट में घुल जाती हैं और छोटी आंत में पहुंच जाती हैं, जहां वे शरीर द्वारा अवशोषित कर ली जाती हैं। खुराक लेने के 30 मिनट के भीतर अवशोषण पूरा हो जाता है। मधुग्रित यकृत में चयापचय होता है और मूत्र के माध्यम से उत्सर्जित होता है। इस पूरक की अनुमानित आधा जीवन अवधि 5 घंटे है।

How many pills are there in a bottle? / एक बोतल में कितनी गोलियां होती हैं?

मधुग्रित गोलियों की प्रति बोतल 60 गोलियां हैं।

Is it safe to take Madhugrit tablet during pregnancy? / क्या गर्भावस्था के दौरान मधुग्रिट टैबलेट को लेना सुरक्षित है?

नहीं, इसे लेने की अनुशंसा नहीं की जाती है।

एक टिप्पणी भेजें

Your comment is Valuable. Please do not enter any spam link in the comment box.

और नया पुराने